“The Knowledge Library”

Knowledge for All, without Barriers…

An Initiative by: Kausik Chakraborty.
02/02/2023 11:46 PM

“The Knowledge Library”

Knowledge for All, without Barriers……….
An Initiative by: Kausik Chakraborty.

The Knowledge Library

Cabinet Mission(कैबिनेट मिशन), 1946

-> दूसरे विश्व युद्ध के बाद ब्रिटेन में बनी सरकार क्लीमेंट एटली के नेतृत्व में लेबर पार्टी की सरकार ने 3 कैबिनेट मंत्रियों का एक मिशन भारत भेजा जो 24 मार्च 1946 को दिल्ली पहुंचा |
-> इस कैबिनेट मिशन(Cabinet Mission) के सदस्य थे
          (1)स्टेफोर्ड क्रिप्स (व्यापार बोर्ड के अध्यक्ष)
          (2)लॉर्ड पेथिक लॉरेंस (भारत सचिव)
          (3)ए.वी.(A.V) एलेग्जेंडर(Albert Victor Alexander)(नौसेना मंत्री)

->इस मिशन ने भारत में तत्काल एक अंतरिम सरकार की स्थापना तथा संविधान सभा के गठन एवं संविधान निर्माण हेतु एक योजना प्रस्तुत की |
-> इस योजना के तहत प्रति 10 लाख की जनसंख्या पर संविधान सभा का एक प्रतिनिधि निर्धारित किया गया |
-> इस योजना के तहत संविधान सभा के सदस्यों की कुल संख्या 389 निश्चित की गई जिनमें 292 ब्रिटिश प्रांतों के प्रतिनिधि 4 चीफ कमिश्नर (दिल्ली, अजमेर-मारवाड़, कुर्ग तथा ब्रिटिश बलूचिस्तान) क्षेत्रों के प्रतिनिधि एवं 93 देशी रियासतों के प्रतिनिधि थे |
-> संविधान सभा के 296 क्षेत्रों को सांप्रदायिक आधार पर तीन वर्गों में विभाजित किया गया |
          (1)सामान्य वर्ग->213
          (2)मुस्लिम वर्ग->79
          (3)सिक्ख वर्ग->4
-> इस योजना के तहत संविधान सभा के सदस्यों का चुनाव प्रांतीय विधान सभा सदस्यों द्वारा अप्रत्यक्ष निर्वाचन प्रणाली द्वारा तय किया गया जबकि देशी रियासतों में प्रतिनिधियों के चयन की पद्धति परामर्श द्वारा तय की गई |
-> जुलाई, 1946 ईस्वी में संविधान सभा का चुनाव हुआ | कुल 389 सदस्यों में से प्रांतों के लिए निर्धारित 296(292 ब्रिटिश प्रांतों के + 4 चीफ कमिश्नर के)सदस्यों के लिए हुए चुनाव में
          -> 208 स्थान कांग्रेस को
          -> 73 स्थान मुस्लिम लीग को
          -> 15 स्थान अन्य दलों को प्राप्त हुआ |

-> संविधान सभा के सदस्यों में अनुसूचित जनजाति के सदस्यों की संख्या 33 थी |

-> संविधान सभा में महिला सदस्यों की संख्या 15 थी |

-> संविधान सभा में अपनी स्थिति को कमजोर देखते हुए मुस्लिम लीग ने संविधान सभा का बहिष्कार किया |

-> हैदराबाद एक ऐसी देशी रियासत थी जिनके प्रतिनिधि संविधान सभा में सम्मिलित नहीं हुए थे |

अंतरिम सरकार का गठन, 1946

-> कैबिनेट मिशन(Cabinet Mission) योजना के तहत 24 अगस्त 1946 को प्रथम अंतरिम राष्ट्रीय सरकार की घोषणा की गई तथा 2 सितंबर 1946 को पंडित जवाहरलाल नेहरू के नेतृत्व में अंतरिम सरकार गठित की गई |
-> वायसराय लॉर्ड माउंटबेटन अध्यक्ष तथा पंडित जवाहरलाल नेहरू उपाध्यक्ष सहित परिषद में कुल 13 सदस्य थे |
-> 26 अक्टूबर 1946 को मुस्लिम लीग भी सरकार में शामिल हो गई |
-> परिषद के 3 सदस्य सैयद अली ज़हीर, शरत चंद्र बोस तथा सर शाफत अहमद खा को मंत्रिमंडल से हटाकर मुस्लिम लीग के 5 प्रतिनिधियों को इसमें शामिल कर लिया गया |
-> लीग का सरकार में शामिल होने का उद्देश्य परिषद के भीतर रहकर पाकिस्तान के लिए लड़ना था |

अंतरिम मंत्रिमंडल

-> लॉर्ड माउंटबेटन – अध्यक्ष
-> पंडित जवाहरलाल नेहरू – कार्यकारी परिषद के उपाध्यक्ष, विदेशी मामले तथा राष्ट्रमंडल
-> सरदार वल्लभ भाई पटेल – गृह सूचना एवं प्रसारण
-> राजेंद्र प्रसाद – खाद्य एवं कृषि
-> आसफ अली – रेलवे
-> जगजीवनराम – श्रम
-> सी राजगोपालाचारी – शिक्षा
-> सी. एच. भाभा – कार्य, खान एवं बंदरगाह
-> जान मथाई – उद्योग तथा आपूर्ति
-> गजान्तर अली खां – स्वास्थ्य
-> लियाकत अली खां (लीग) – वित्त
-> आई.आई.चुन्दरीगर (लीग) – वाणिज्य
-> अब्दुल रब नश्तर (लीग) – संचार
-> जोगेंद्र नाथ मंडल (लीग) – विधि

Sign up to Receive Awesome Content in your Inbox, Frequently.

We don’t Spam!
Thank You for your Valuable Time

Advertisements

Share this post