“The Knowledge Library”

Knowledge for All, without Barriers…

An Initiative by: Kausik Chakraborty.
31/01/2023 10:18 PM

“The Knowledge Library”

Knowledge for All, without Barriers……….
An Initiative by: Kausik Chakraborty.

The Knowledge Library

प्रमुख अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष संगठन

राष्ट्रीय वैमानिकी और अंतरिक्ष प्रशासन (NASA): अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष संगठन

राष्ट्रीय वैमानिकी एवं अंतरिक्ष प्रशासन (NASA) संयुक्त राज्य अमेरिका के संघीय सरकार की कार्यकारी शाखा की एक स्वतंत्र एजेंसी है जो नागरिक अंतरिक्ष कार्यक्रम के साथ-साथ वैमानिकी और अंतरिक्ष अनुसंधान के लिये उत्तरदायी है।

  • राष्ट्रीय वैमानिकी एवं अंतरिक्ष अधिनियम, 1958 के तहत स्थापित।
  • मुख्यालय : वॉशिंगटन, डीसी, अमेरिका।
  • द्वितीय विश्वयुद्ध के बाद अमेरिका की पूर्व सोवियत संघ (वह सुपर पावर जो 1991 में कई संप्रभु देशों में विभक्त हो गई, जिसमें रूसी संघ, कज़ाखस्तान, यूक्रेन आदि हैं) के साथ सीधी प्रतिस्पर्द्धा थी। इस अवधि को शीतयुद्ध कहा गया।
  • 4 अक्तूबर, 1957 को सोवियत संघ के स्पुतनिक लॉन्च ने प्रथम बार किसी पिंड को पृथ्वी की कक्षा में स्थापित किया था।
  • नासा का जन्म प्रत्यक्ष तौर पर स्पुतनिक की लॉन्चिंग और अंतरिक्ष में तकनीकी सर्वोच्चता दिखाने की भविष्य की दौड़ से जुड़ा था।
  • शीतयुद्ध की प्रतिद्वंद्विता के चलते अमेरिका के राष्ट्रपति ड्वाइट डी. आइज़नहावर ने 29 जुलाई, 1958 को नेशनल ऐरोनॉटिक्स एंड स्पेस एक्ट पर हस्ताक्षर किये, जिसमें पृथ्वी के वायुमंडल और अंतरिक्ष में उड़ान की समस्याओं पर अनुसंधान की व्यवस्था थी।
  • अंतरिक्ष में सैनिक बनाम नागरिक नियंत्रण पर लंबी बहस के बाद इस अधिनियम ने एक नई नागरिक एजेंसी को जन्म दिया जिसे राष्ट्रीय वैमानिकी एवं अंतरिक्ष प्रशासन (NASA) नाम दिया गया।
  • नासा मुख्यालय, जिसे आधिकारिक तौर पर मैरी डब्ल्यू जैक्सन नासा मुख्यालय या नासा मुख्यालय के रूप में जाना जाता है और जिसे पहले टू इंडिपेंडेंस स्क्वायर नाम दिया गया था, वाशिंगटन डीसी में है।
  • वर्तमान मिशन- जूनो, क्यूरियोसिटी, कैसिनी-ह्यूजेंस, डॉन, मार्स 2020 रोवर, केपलर स्पेस टेलीस्कोप, न्यू होराइजन, जेम्स वेब स्पेस टेलीस्कोप आदि।

अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष संगठन

यूरोपीय अंतरिक्ष एजेंसी (ESA): अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष संगठन

  • यह 22 सदस्य देशों वाला एक अंतर्राष्ट्रीय संगठन है जो यूरोप की अंतरिक्ष क्षमता के विकास को प्रदर्शित करता है। यह अपने सदस्यों के वित्तीय और बौद्धिक संसाधनों को समन्वित करता है।
  • यह यूरोपीय देशों के बाहर भी अपने कार्यक्रम और गतिविधियों को संचालित करता है।
  • ESA का मुख्यालय पेरिस में स्थित है। इसकी स्थापना वर्ष 1975 में हुई थी।
  • ESA का अंतरिक्ष पत्तन (SPACE PORT) दक्षिण अमेरिका के फ्रेंच गुयाना में स्थित है।

रोस्कोसमोस (रूसी अंतरिक्ष एजेंसी): अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष संगठन

  • स्टेट स्पेस कॉरपोरेशन (The State Space Corporation) जिसे आमतौर पर केवल रॉसकॉसमॉस (Roscosmos) के रूप में जाना जाता है, एक एयरोस्पेस अनुसंधान है।
  • 1950 के दशक में यह सोवियत अंतरिक्ष कार्यक्रम के नाम से स्थापित किया गया था जो 1991 में सोवियत संघ के विघटन के बाद रॉसकॉसमॉस के नाम से जाना जाता है।
  • यह शुरू में रूसी अंतरिक्ष एजेंसी (Russian Space Agency) के रूप में शुरू हुआ, जिसे 25 फरवरी 1992 को स्थापित किया गया था और 1999 में पुनर्गठित किया गया।
  • 2015 में, संघीय अंतरिक्ष एजेंसी (रॉसकॉसमॉस) का संयुक्त रॉकेट और अंतरिक्ष के साथ विलय कर दिया गया था।
  • रोस्कोसमोस का मुख्यालय मॉस्को में है, जिसका मुख्य मिशन कंट्रोल सेंटर पास के शहर कोरोल्योव में है, और यूरी गगारिन कॉस्मोनॉट ट्रेनिंग सेंटर मॉस्को के स्टार सिटी में स्थित है।

जापान एयरोस्पेस एक्सप्लोरेशन एजेंसी (JAXA): अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष संगठन

  • जापानी वान्तारिक्ष अन्वेषण अभिकरण अथवा जापान एयेरोस्पस ऐक्स्प्लोराशन एजेंसी (जाक्सा) जापान की सरकारी अंतरिक्ष संस्था है।
  • जाक्सा के वर्तमान स्वरुप का गठन 2003 में हुआ था।
  • तानेगाशिमा अंतरिक्ष केंद्र जाक्सा का प्रमुख प्रक्षेपण स्थल है| यहाँ पर उपग्रहों एवं प्रक्षेपण यानों का विकास, परीक्षण एवं संचालन किया जाता है|

चीन राष्ट्रीय अंतरिक्ष प्रशासन: अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष संगठन

  • चीन का राष्ट्रीय अंतरिक्ष प्रशासन चीन की राष्ट्रीय अंतरिक्ष एजेंसी है।
  • यह राष्ट्रीय अंतरिक्ष कार्यक्रम और अंतरिक्ष गतिविधियों की योजना और विकास के लिए जिम्मेदार है।
  • इसके वर्तमान स्वरूप का गठन सन 1993 में हुआ था।
  • इस संस्था की सबसे बड़ी उपलब्धि मानव को अंतरिक्ष में भेजना है। अक्टूबर 2003 में शेनजोऊ 5 स्पेसफ्लाइट द्वारा पहली बार चीनी अंतरिक्ष यात्री यांग लिवेई को अंतरिक्ष में भेजा गया इसी के साथ सोवियत संघ और अमेरिका के बाद अंतरिक्ष में मानव भेजने वाला चीन तीसरा राष्ट्र बना।
  • हाल के मिशन- चीनी लूनर एक्सप्लोरेशन प्रोग्राम, मार्स ग्लोबल रिमोट सेंसिंग ऑर्बिटर और लॉन्ग मार्च 9।

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो): अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष संगठन

  • भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) भारत सरकार की अग्रणी अंतरिक्ष अन्वेषण एजेंसी है, जिसका मुख्यालय बेंगलुरु में है।
  • इसरो का गठन 1969 में ग्रहों की खोज और अंतरिक्ष विज्ञान अनुसंधान को आगे बढ़ाते हुए राष्ट्रीय विकास में अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी के विकास और दोहन की दृष्टि से किया गया था।
  • वैज्ञानिक विक्रम साराभाई को भारतीय अंतरिक्ष कार्यक्रम के संस्थापकों में से एक माना जाता है।
  • इसरो ने अपनी अनूठी और लागत प्रभावी प्रौद्योगिकियों का सफलतापूर्वक प्रदर्शन करके, वर्षों से दुनिया में विशिष्ट अंतरिक्ष एजेंसियों के बीच स्थान हासिल किया है।
  • पहला भारतीय उपग्रह, आर्यभट्ट, इसरो द्वारा बनाया गया था और 19 अप्रैल, 1975 को सोवियत संघ की मदद से लॉन्च किया गया था।
  • वर्ष 1980 ने रोहिणी के प्रक्षेपण को चिह्नित किया, जो कि पहला उपग्रह था जिसे SLV-3, एक भारतीय निर्मित प्रक्षेपण यान द्वारा सफलतापूर्वक कक्षा में रखा गया था।
  • हाल के मिशन- चंद्रयान, गगनयान-2, मंगलयान आदि।

Sign up to Receive Awesome Content in your Inbox, Frequently.

We don’t Spam!
Thank You for your Valuable Time

Advertisements

Share this post